Rupee vs dollar: रूपये में गिरावट के कारण RBI को महंगाई का भय.

RBI की कोशिसों के बावजूद भी डॉलर की तुलना में रुपये की कीमत गिर रही.

हाल ही में डॉलर की कीमत भारतीय रूपये में 80 रूपये हो चुकी है.

RBI  का मानना है, की अगर यही स्थिति रही तो महंगाई की मार बढ़ सकती है.

हालाँकि यूरो, येन और और ब्रिटिश पाउंड की तुलना में रूपये की स्थिति काफी अच्छी है.

इस साल कई विकसित देशों में जून 2022 के बाद महंगाई अपने कदम बढ़ा रही है.

मंहगाई के कारण कच्चे तेल के दामों में भी काफी उछाल आया है.

RBI निरंतर प्रयास कर रही है, की जैसे-तैसे करके मंहगाई की मार को बढ़ने से रोका जा सके.

मई 2022 में हुयी कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) में 17 लाख की वृद्धि