सनी देओल के सबसे बेस्ट डायलॉग | Sunny deol dialogue lyrics in hindi.

Sunny deol dialogue: बॉलीवुड इंडस्ट्री में सनी देओल के डायलोग (Sani deol ke dialogue) आज भी लोगों की पहली पसंद है, अभिनेता सनी देओल के वैसे तो सभी डायलॉग स फेमस है, लेकिन कुछ फिल्म जैसे दामिनी, घातक, ग़दर इन फिल्मो के डायलोग सबसे पोप्युलर हुए है. तो चलिए जनाते है, Actor सनी देओल के सबसे बेस्ट डायलोग कौनसे और किन फिल्मों से है.

सनी देओल दामिनी फिल्म डायलॉग (Sunny deol damini movie dialogue lyrics in hindi)

सनी देओल दामिनी फिल्म डायलॉग | Sunny deol damini movie dialogue lyrics in hindi

“चिल्ला मत….नहीं तो मै इस केस को यहीं Rafa-Daffa कर दूंगा…फिर न तारिख होगी और ना ही और ना सुनवाई….फिर केवल इंसाफ होगा…और वो भी ताबड़-तोड़”

“चड्ढा समझा दे इसे….ऐसे खिलोने बाज़ार में काफी मिल जाते है…मगर इससे खेलने के लिए, जो जिगर चाहिए ना….वो दुनिया के किसी बाज़ार में नही बिकता….मर्द उसे लेकर पैदा होता है”

“अगर कल अदालत में तूने बत्तमीजी की….तो तुझे वहीँ मारूंगा….जज आर्डर-आर्डर करता रहेगा…लेकिन तू पीटता रहेगा”

“तुझे ऐसा झटका लगाऊंगा की….तू झटकना भूल जाएगा”

“तारिक पे तारिक तारिक पे तारिक पे तारिक….तारिक पे तारिक मिलती रही….लेकिन इन्साफ नही मिला जज साहब….इन्साफ नही मिला…मिली है,तो बस ये तारिक”

“कभी-कभी बरसों साथ रहने के बाद भी रिश्ता नही बन पाता….और कभी-कभी एक ही मुलाकात में ऐसा लगता है….जैसे बरसों से उसे जानते हो”

सनी देओल घातक फिल्म डायलॉग (Sunny deol ghatak movie dialogue lyrics in hindi)

सनी देओल घातक फिल्म डायलॉग (Sunny deol ghatak movie dialogue lyrics in hindi)

“मेरी ये ताकत, मैंने खून पसीने की रोटी से कमाई है …मुझे तेरे इन Tukdo पर पलने की कोई जरुरत नहीं”

“एक पिंजरे में आने के बाद शेर भी कुत्ता बन जाता है…तू क्या चाहता है….मै यहाँ कुत्ता बनकर रहूँ…तूं कहे तो काटू…और तू कहे तो भौंकू”

“लोगों को डराकार वो जीता है….जिसकी हड्डियों में पानी भरा होता है”

सनी देओल गदर फिल्म डायलॉग (Sunny deol gadar movie dialogue lyrics in hindi)

सनी देओल गदर फिल्म डायलॉग (Sunny deol gadar movie dialogue lyrics in hindi)

“अश्रफ अली….अगर तुम्हारा Pakistan जिंदाबाद है, तो इससे हमें कोई तकलीफ नहीं….लेकिन हमारा hindustan जींदाबाद था…जिन्दाबाद है,और जिन्दाबाद रहेगा”

“एक कागज़ पर अगर मोहर नहीं लगेगी तो क्या तारा पकिस्तान नही जा पाएगा….मेरे बच्चे को उसकी माँ से मिलने के लिए कोई शरहद रोक सकती”

“जब हमारे देश को बांटा गया था,तो उसी समय मेरे ही देश ने तुम्हे 65 करोड़ रूपये दिए थे….तब जाकर तुम लोगो के सिर पे तिरपाल आई थी…. बारिश से बचने की औकात नही है, और बात करते हो गोलीबारी की”

“अगर मै अपने परिवार के लिए सर झुका सकता हूँ…तो मै उनके लिए सर तुम्हारा सर काट भी सकता हूँ”

“किसी को हिन्दुस्तान चाहिए….तो किसी को पाकिस्तान….इंसान की तो किसी को जरुरत ही नहीं”

“ये मुल्क है….कोई खेत का टुकड़ा नहीं, जो यूँ ही बंट जाएगा”

“एक पिता की तरह अपनी बेटी को विदा कर दीजिये….नहीं तो , अगर ये jatt बिगड़ गया तो सबको को ले मरेगा”

“रब एक है, खुदा भी एक ही है….तो उसके बनाये गए बन्दे भी एक ही हुए ना”

Leave a Reply

Your email address will not be published.